Tech

Suez Canal Blockage Update; Ever Given (Container Ship) Seizes By Egypt | कार्गो शिप एवर गिवन पर 7500 करोड़ की पेनाल्टी, 6 दिन फंसने से शिप को हुआ 4.32 लाख करोड़ का घाटा


Adverts से है परेशान? बिना Adverts खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

काहिरा5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

मिस्र की स्वेज नहर में 6 दिन तक फंसे कार्गो शिप एवर गिवन पर स्थानीय अथॉरिटी ने 7500 करोड़ रुपए से ज्यादा का भारी भरकम जुर्माना लगाया है। इस जहाज के 23 मार्च से 29 मार्च के बीच नहर में फंसे होने से यह रूट जाम हो गया था। इससे करीब 150 अन्य जहाजों की आवाजाही रुक गई थी।

इससे केवल ट्रांजिट फीस के तौर पर स्वेज कैनाल अथॉरिटी को 95 मिलियन डॉलर (714 करोड़ रुपए) से ज्यादा का नुकसान हुआ। अब सरकार ने जहाज को जब्त कर लिया है। मिस्र की सरकार ने यह कदम स्वेज कैनाल अथॉरिटी की अपील पर इस्लामिया शहर की अदालत की तरफ से जारी आदेश के बाद उठाया है।

जहाज के फंसने की वजह से नहर में यातायात बंद हो गया था, जिस वजह से शिप को हर घंटे लगभग 400 मिलियन डॉलर यानी करीब 3 हजार करोड़ का नुकसान हो रहा था। 6 दिन फंसा यानी 144 घंटे। इस हिसाब से जहाज को कुल 4 लाख 32 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।

एक अरब डॉलर का मुआवजा मांगा गया है
स्वेज कैनाल अथॉरिटी ने दुनिया के सबसे अहम जलमार्ग को हुए नुकसान और कारोबारी घाटे की भरपाई के लिए लगभग एक अरब डॉलर (7500 करोड़ रुपए से ज्यादा) का मुआवजा मांगा है। मुआवजे की मांग के साथ जहाज को जब्त कर लिए जाने से जापानी मालिक पर मिस्र के अधिकारियों के साथ बातचीत से मसला हल करने का दबाव बढ़ गया है।

किसा वजह से फंसा जहाज, कल पता चलेगा
फाइनेंशियल एनालिसिस फर्म रिफिनिटिव के मुताबिक, जहाज के फंसने से नहर में लगे जाम से स्वेज कैनाल अथॉरिटी को अकेले 9.5 करोड़ डॉलर (714 करोड़ रुपए) की ट्रांजिट फीस का लॉस हुआ। जहाज किस वजह से नहर में फंसा, इसकी जांच रिपोर्ट 15 अप्रैल यानी कल जारी होने की उम्मीद है। गिवन एवर को फिलहाल चालक दल के 25 सदस्यों के साथ मिस्र के ग्रेट बिटर लेक पर लंगर डाले रखा गया।

मुआवजे का दावा बड़ा, निराधार: बीमा कंपनी
जापानी कंटेनर शिप के लिए थर्ड पार्टी लॉस का इंश्योरेंस करने वाली ब्रिटेन की UK P&I क्लब ने मंगलवार को बयान जारी कर कहा था कि एवर गिवन की जापानी मालिक से 91.6 करोड़ डॉलर का मुआवजा मांगा गया है। बयान के मुताबिक, मुआवजे के लिए जितना बड़ा दावा किया गया है, उसका कोई आधार नहीं है, लेकिन कंटेनर शिप की मालिक कंपनी और उसकी इंश्योरेंस कंपनियां स्वेज कैनाल अथॉरिटी के साथ बात कर रही हैं।

12 अप्रैल को मुआवजा ऑफर किया गया
इंश्योरेंस कंपनी ने अपने बयान में कहा है, ’12 अप्रैल को काफी सोच विचार करके मुआवजे के तौर पर अथॉरिटी को मोटी रकम की पेशकश की गई। लेकिन आज स्वेज कैनाल अथॉरिटी ने जहाज को जब्त करने का फैसला किया, जिससे हमें बहुत तकलीफ हो रही है।’

छह दिन की कड़ी मशक्कत से निकला जहाज
भारतीय चालक दल वाला कंटेनर शिप एवर गिवन 23 मार्च को स्वेज नहर में फंस गया था, जिससे दूसरे जहाज जहां के तहां थम गए थे। स्वेज कैनाल अथॉरिटी छह दिन की कड़ी मशक्कत के बाद 29 मार्च को जहाज को फिर से पानी में उतारने और जाम हटाने में कामयाब रही थी।

खबरें और भी हैं…



Download Server Watch Online Full HD

Socially Keeda

Socially Keeda, the pioneer of news sources in India operates under the philosophy of keeping its readers informed. SociallyKeeda.com tells the story of India and it offers fresh, compelling content that’s useful and informative for its readers.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker