Tech

RBI receives 8 applications for setting up banks under ‘on tap’ licensing | देसी-विदेशी कंपनियों ने RBI से मांगा ऑन टैप लाइसेंस, सचिन बंसल की कंपनी भी शामिल


Advertisements से है परेशान? बिना Advertisements खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली41 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • यूनिवर्सल बैंक और स्मॉल फाइनेंस बैंक के लिए 4-4 आवेदन
  • RBI ने आवेदनों के मूल्यांकन के लिए एडवाइजरी कमेटी बनाई

आने वाले समय में देश में 8 नए प्राइवेट बैंक खुल सकते हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने गुरुवार को कहा कि ‘ऑन टैप’ गाइडलाइंस के तहत बैंक लाइसेंस के लिए उसे दो वर्गों में 4-4 आवेदन मिले हैं। इन गाइडलाइंस के तहत यूनिवर्सल बैंक और स्मॉल फाइनेंस बैंक के लिए लाइसेंस दिए जाने हैं। आवेदन करने वालों में देसी-विदेशी कंपनियां और व्यक्ति शामिल हैं।

यूनिवर्सल बैंक लाइसेंस किस-किस ने किया आवेदन?

RBI की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, यूनिवर्सल बैंक लाइसेंस के लिए UAE एक्सचेंज एंड फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड, द रैपट्रीटीज को-ऑपरेटिव फाइनेंस एंड डेवलपमेंट बैंक लिमिटेड (REPCO Financial institution), चैतन्य इंडिया फिन क्रेडिट प्राइवेट लिमिटेड और पंकज व अन्य ने आवेदन किया है। चैतन्य इंडिया में फ्लिपकार्ट के को-फाउंडर सचिन बंसल की बड़ी हिस्सेदारी है। सचिन बंसल ने सितंबर 2019 में चैतन्य में 739 करोड़ रुपए का निवेश किया था।

स्मॉल फाइनेंस बैंक लाइसेंस किस-किस ने किया आवेदन?

स्मॉल फाइनेंस बैंक लाइसेंस के लिए VSoft टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड, कालीकट सिटी सर्विस को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड, अखिल कुमार गुप्ता और द्वारा क्षेत्रीय ग्रामीण फाइनेंशियल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड ने आवेदन किया है। RBI ने प्राइवेट सेक्टर में यूनिवर्सल बैंक और स्मॉल फाइनेंस बैंक के ऑन टैप लाइसेंस के लिए 1 अगस्त 2016 और 5 दिसंबर 2019 को गाइडलाइन जारी की थीं।

क्या कहती हैं गाइडलाइंस?

  • गाइडलाइंस के मुताबिक, यूनिवर्सल बैंक खोलने के लिए कम से कम 500 करोड़ रुपए की पेड-अप वोटिंग इक्विटी कैपिटल होनी चाहिए। इसके अलावा बैंक की नेटवर्थ हमेशा 500 करोड़ रुपए रहनी चाहिए।
  • स्मॉल फाइनेंस बैंक की स्थापना के लिए पेड-अप वोटिंग कैपिटल और नेटवर्थ 200 करोड़ रुपए होनी चाहिए।
  • यदि कोई अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक स्मॉल फाइनेंस बैंक में बदलना चाहता है तो उसके पास 100 करोड़ रुपए की नेटवर्थ होनी चाहिए। बैंक को अपनी नेटवर्थ पांच साल में 200 करोड़ रुपए करनी होगी।
  • RBI ने पिछले महीने कहा था कि यूनिवर्सल और स्मॉल फाइनेंस बैंक के लिए आए आवेदनों के मूल्यांकन के लिए स्टैंडिंग एक्सटर्नल एडवाइजरी कमेटी का गठन किया है। इस कमेटी के अध्यक्ष RBI के पूर्व डिप्टी गवर्नर श्यामला गोपीनाथ बनाए गए हैं।

क्या है ऑन टैप लाइसेंस?

RBI स्मॉल फाइनेंस बैंक की स्थापना के लिए ऑन टैप लाइसेंस देता है। ऑन टैप का मतलब है कि RBI की ओर से तय गाइडलाइंस को पूरा करने वाली कोई भी इकाई स्मॉल फाइनेंस बैंक का लाइसेंस ले सकती है। इसके तहत अतिरिक्त मंजूरी लेने की आवश्यकता नहीं होगी। ऑन टैप लाइसेंस लेने के लिए आवेदन करने वाले के पास बैंकिंग या वित्तीय क्षेत्र की जानकारी होनी चाहिए।

खबरें और भी हैं…



Download Server Watch Online Full HD

Socially Keeda

Socially Keeda, the pioneer of news sources in India operates under the philosophy of keeping its readers informed. SociallyKeeda.com tells the story of India and it offers fresh, compelling content that’s useful and informative for its readers.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker