Lifestyle

MRI के दौरान मरीज के जलने के बाद Face Masks में मेटल को लेकर FDA ने जारी की चेतावनी, दी ये सलाह


MRI के दौरान मरीज के जलने के बाद Face Mask में मेटल को लेकर FDA ने जारी की चेतावनी, दी ये सलाह

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credits: Pixabay)

एमआरआई टेस्ट (MRI Test) के दौरान एक मरीज के जलने की घटना के बाद मेटल वाले फेस मास्क (Face Mask With Metal Parts) को लेकर भोजन और औषधि प्रशासन (Food and Drug Administration) यानी एफडीआई (FDI) ने एक चेतावनी (Warning) जारी की है. बताया जा रहा है कि एमआरआई के दौरान एक मरीज ने मेटल पार्ट वाला फेस मास्क (Face Mask) पहन रखा था, जिसके चलते मेटल वाले हिस्से में वह जल गया. इसी घटना के बाद एफडीआई ने सोमवार को इस तहर के टेस्ट के दौरान मास्क के प्रकार को लेकर चेतावनी जारी की है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, मरीज गर्दन की एमआरआई टेस्ट से गुजर रहा था, जिसके बाद उसे चेहरे पर तेज जलन की शिकायत हुई जो उसके फेस मास्क के आकार के अनुरूप था.

सामान्य तौर पर रोगियों को एमआरआई टेस्ट कराने से पहले शरीर पर धारण किए गए किसी भी धातु को हटाने की सलाह दी जाती है और तकनीशियन्स या स्वास्थ्य देखभाल प्रदाताओं को टेस्ट शुरू करने से पहले पूरी तरह से मरीज की जांच करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है. हालांकि कोरोना वायरस महामारी के दौरान मास्क के बढ़ते उपयोग के कारण एफडीए ने सुरक्षात्मक फेस मास्क में धातु से संबंधित नई गाइडलाइन्स जारी की है. यह भी पढ़ें: COVID-19: धूल-धुएं से एलर्जी वाले रहें ज्यादा सावधान, कोरोना संक्रमण हुआ तो पड़ सकते हैं गंभीर रूप से बीमार

नोज क्लिप या नोज वायर जैसे नोज पिसेज, जिनमें एंटीमाइक्रोबायल कोटिंग धातु (चांदी या तांबा) हो सकता है. ऐसे मेटल पार्ट को पहनकर एमआरआई टेस्ट कराने पर यह गर्म हो सकता है और रोगी को जला सकता है. एफडीए एडवाइजरी को सोमवार को पोस्ट किया गया, जिसमें कहा गया है कि एमआरआई के दौरान मरीजों को बिना मेटल वाले फेस मास्क पहनने की सलाह दी जाती है.

एजेंसी ने नोट किया कि यह निर्धारित करना मुश्किल हो सकता है कि मास्क में मेटल है या नहीं, इसलिए मरीजों को टेस्ट शुरू होने से पहले एमआरआई तकनीशियन्स से परामर्श करना चाहिए. स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता जो निर्धारित नहीं कर सकते कि फेस मास्क में धातु यानी मेटल है या नहीं, उन्हें एक वैकल्पिक फेस मास्क का सुझाव देना चाहिए, जिसमें धातु न हो. यह भी पढ़ें: Common Mistakes While Wearing Face Masks: मास्क पहनते समय अधिकांश लोग करते हैं ये गलतियां, जानें इस दौरान बरती जाने वाली सावधानियां

एफडीआई ने आगे कहा कि स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता जो एमआरआई टेस्ट करते हैं, उन्हें उन रोगियों को धातु के बिना फेस मास्क प्रदान करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है, जो एमआरआई से गुजरेंगे. इसके अलावा यह भी कहा कि जिन मरीजों को एमआरआई के दौरान चेहरे के मास्क से जलन होती है, उनसे एफडीए को घटना की सूचना देने का अग्रह किया जाता है.




Download Server Watch Online Full HD

Socially Keeda

Socially Keeda, the pioneer of news sources in India operates under the philosophy of keeping its readers informed. SociallyKeeda.com tells the story of India and it offers fresh, compelling content that’s useful and informative for its readers.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker