- Advertisement-
Lifestyle

अहमद शाही से लेकर महेश तक, क्यों इंसान करते हैं जानवरों के साथ रेप? जानिए Zoophilia, Bestiality और इससे जुड़ी मानसिकता के बारे में सब कुछ


अहमद शाही से लेकर महेश तक, क्यों इंसान करते हैं जानवरों के साथ रेप? जानिए Zoophilia, Bestiality और इससे जुड़ी मानसिकता के बारे में सब कुछ

बकरी और गाय (Picture Credit: Pixabay)

जानवरों के साथ यौन दुराचार और बलात्कार (Rape With Animals) जैसी कई घटनाएं पहले भी सामने आ चुकी हैं. दरअसल, जानवरों के साथ सेक्स (Intercourse) एक घिनौना अपराध है और इस तरह की मानसिकता रखने वाले अपराधी आम लोगों की समझ से परे होते हैं. आखिर ऐसे लोगों के मन में जानवरों के साथ दुराचार करके खुद को संतुष्ट करने का विचार कहां से आता है? खैर कई अध्ययनों और शोधों में लोगों के दिमाग को समझने की कोशिश की गई है कि आखिर वो जानवरों के साथ किस वजह से दुराचार करते हैं? सबसे हालिया मामले में एक शेरू नाम के कुत्ते को सब्जी विक्रेता अहमद शाही ने अपनी हवस का शिकार बनाया था, जो उसके 30 पीड़ितों में से एक है.

- Advertisement-

शख्स पर आरोप है कि उसने लगभग 30 आवारा कुत्तों के साथ यौन उत्पीड़न किया और पिछले कुछ समय से मुंबई के अंधेरी इलाके में वो इस तरह की घटना को अंजाम दे रहा है. जब मामला डीएन नगर पुलिस स्टेशन में पहुंचा तब भी यह सवाल बरकरार था कि आखिर लोग जानवरों के साथ बलात्कार क्यों करते हैं और इस जघन्य अपराध का समाधान क्या है?

इससे पहले हैदराबाद के हैदरगुडा के अवंती नगर इलाके में एक व्यक्ति को नौ महीने के बछड़े के साथ बलात्कार के आरोप में पकड़ा गया था, जिसकी पहचान महेश के तौर पर हुई थी. आरोपी पर भारतीय दंड संहिता की धारा 377 (अप्राकृतिक अपराध) के तहत आरोप लगाए गए. साल 2018 में हरियाणा के मेवात में एक 50 सप्ताह की गर्भवती बकरी के साथ 8 लोगों ने बलात्कार किया और उसे यातना दी, जिसके चलते उसकी मौत हो गई. पिछले साल उत्तर प्रदेश के अयोध्या में गायों के साथ बलात्कार करते हुए राजकुमार नाम के एक व्यक्ति को सीसीटीवी कैमरे में कैद किया गया था. चलिए जानते हैं Bestiality जोफिलिया और इसके पीछे की मानसिकता के बारे में सब कुछ.

- Advertisement-

Zoophilia और Bestiality क्या है?

जोफिलिया को जानवरों के प्रति मनुष्यों के यौन आकर्षण के रूप में परिभाषित किया गया है. यह जानवर के बारे में सिर्फ यौन कल्पनाओं से लेकर उसके साथ वास्तविक यौन संपर्क की खोज तक हो सकता है, जो बाद में Bestiality में बदल जाता है. मनुष्यों और जानवरों के बीच सेक्स कई देशों में अवैध है और यह अपराधी के मानसिक स्वास्थ्य की तरफ भी इशारा करता है.

मनोचिकित्सक डॉ. एरा दत्ता का कहना है कि पैराफिलिया (Paraphilia) या सामान्य हेटरो-होमो पैटर्न (Hetero-Homo Patterns) के बाहर एक वैकल्पिक यौन इच्छाओं को इसके लिए जिम्मेदार माना जा सकता है. यह एक यौन रूप से कुटिल व्यवहार है, जहां व्यक्ति समाज के मानदंडों से बाहर की चीजों, बच्चों, जानवरों या निर्जीव वस्तुओं की ओर आकर्षित होता है. ऐसा तब होता है जब यह एक विकार बन जाता है. यह भी पढ़ें: Mermaid Child: हैदराबाद में हुआ मरमेड बेबी का जन्म, एक घंटे के भीतर हुई मौत, जानें क्या है मरमेड सिंड्रोम?

- Advertisement-

इंसान क्यों करते हैं जानवरों से बलात्कार?

Psyche को जानना और व्यक्ति द्वारा जानवरों का बलात्कार करने के कारण का पता लगाना अभी भी मुश्किल है. हालांकि बलात्कार के Sociobiological Theories यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि विकासवादी अनुकूलन बलात्कारियों के मनोविज्ञान को कैसे प्रभावित करता है? यह सिद्धांत अत्यधिक विवादास्पद है. शोध के अनुसार, पारंपरिक सिद्धांत आमतौर पर बलात्कार को व्यवहार अनुकूलन (Behavioral Adaptation) नहीं मानते हैं.

इन मामलों में प्रभावी निवारक उपायों के लिए बलात्कार के कारणों का ज्ञान जरूरी है. Bestiality भी स्वास्थ्य जोखिम पैदा कर सकती है. विशेषज्ञों का मानना है कि जानवरों के साथ यौन संपर्क के कारण लेप्टोस्पायरोसिस, घातक परजीवी संक्रमण, रेबीज, यूरीन संबंधी विकार, पेनाइल कैंसर और एसटीडी होने का खतरा होता है.

- Advertisement-


Download Now

- Advertisement-

Socially Keeda

Socially Keeda, the pioneer of news sources in India operates under the philosophy of keeping its readers informed. SociallyKeeda.com tells the story of India and it offers fresh, compelling content that’s useful and informative for its readers.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

- Advertisement-
Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker